राज्य में कृषि विकास
          राज्य सरकार के द्वारा प्रदेश की कृषि विकास एवं कृषकों के आर्थिक उत्थान हेतु विगत वर्षों में किये गये प्रयासों के सकारात्मक परिणाम प्राप्त हुए हैं। छत्तीसगढ़ राज्य में धान का उत्पादन बढ़ाने हेतु राज्य सरकार द्वारा किसानों को दी गई सहायता एवं प्रदेश के किसानों द्वारा उन्नत कृषि तकनीकी अपनाकर सर्वाधिक धान उत्पादन प्राप्त करने के फलस्वरूप भारत सरकार द्वारा वर्ष 2010-11, वर्ष 2012-13 एवं वर्ष 2013-14 तथा वर्ष 2014-15 में दलहन उत्पादन के लिए चौथी बार राज्य को प्रतिष्ठित “कृषि कर्मण” पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इस उपलब्धि के लिए प्रदेश के कृषक बधाई के पात्र हैं।
          एग्रीकल्चर टुडे पत्रिका द्वारा वर्ष 2015 हेतु “एग्रीकल्चर लीडरशीप एवार्ड” प्रदेश को प्रदान किया गया। विगत 12 वर्षों में चांवल में 39 प्रतिशत, गेहूं में 24 प्रतिशत, कुल अनाज में 35 प्रतिशत, कुल दलहन में 13 प्रतिशत, कुल खाद्यान्न में 33 प्रतिशत एवं कुल तिलहन में 13 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
शेष
    
एक्सटेंशन रिफॉर्म्स(आत्मा) योजनान्तर्गत् जिला नारायणपुर में जिला स्तर पर - डिप्टी प्रोजेक्ट डायरेक्टर, एकाउन्टेंट कम क्लर्क, कम्प्यूटर आपरेटर तथा विकासखण्ड स्तर पर ब्लाक टेक्नोलाजी मैनेजर (बी.टी.एम.) एवं असिस्टेंट टेक्नोलाजी मैनेजर (ए.टी.एम.) पदों पर संविदा नियुक्ति का विज्ञापन एवं आवेदन प्रारूप नियुक्तियां में देखें।